गृह राज्य मंत्री अमित ने शिलान्यास के बहाने “फूंका चुनावी बिगुल”

0
181

अजय कुमार मिश्र

 

 

आजमगढ़ : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने विश्वविद्यालय शिलान्यास के बहाने चुनावी निशाना साधते हुए, बहुजन समाज पार्टी तथा समाजवादी पार्टी का गढ़ माने जाने वाले जिले आजमगढ़ को बड़ा तोहफा देने के साथ ही भारतीय जनता पार्टी के कार्य तथा योजनाओं को लोगों के बीच रखा।

अमित शाह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ राज्य विश्वविद्यालय का तोहफा देने के साथ जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आजमगढ़ की दस विधानसभा सीट में से पांच बसपा तथा चार सपा के पास हैं। एक पर भाजपा ने अपना खाता खोला है। अब भाजपा का लक्ष्य बाकी सीटों को जीतने का है।

इसके साथ ही गृहमंत्री अमित शाह के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के प्रभारी केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने संबोधन करते हुए, जनता का अभिवादन किया।

राज्य विश्वविद्यालय के शिलान्यास कार्यक्रम में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि लम्बे समय तक बदनाम रहा आजमगढ़ अब मां सरस्वती का धाम बनेगा। हम यहां पर माता सरस्वती का मंदिर बनाने जा रहा है। हम यहां पर महाराजा सुहेलदेव के नाम से राज्य विश्वविद्यालय बनाने जा रहे हैं। अमित शाह ने राज्य विश्वविद्यालय के नाम का एलान किया। उन्होंने कहा कि यहां पर महाराजा सुहेलदेव के नाम से राज्य विश्वविद्यालय बनेगा। उन्होने कहा कि मैं योगी आदित्यनाथ जी को एक सुझाव देना चाहता हूं, कि इसी यूपी की भूमि पर परदेसी आक्रांताओं को खदेडऩे का काम महराज सुहेलदेव जी ने किया था। अगर इस यूनिवर्सिटी का नाम हम उनके नाम पर रखते हैं, तो ये लोगों के लिए बहुत बड़ा संदेश होगा।

अमित शाह ने कहा कि जहां पर कभी महिर्षि वशिष्ठ जी का आश्रम हुआ करता था, उसी भूमि पर आज मां सरस्वती जी का मंदिर बनने जा रहा है। जिस आजमगढ़ को दुनियाभर के अंदर, सपा शासन में कट्टरवादी सोच और आतंकवाद की पनाहगार के रूप में जाना जाता था, उसी भूमि पर हम लोग आज मां सरस्वती जी का धाम बनाने का काम कर रहे हैं।

गृह मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्वांचल को मच्छर और माफिया मुक्त कर दिया। आजगमढ़ भी इसी में शामिल है। जिस आजमगढ़ को आतंवादियों की पनाहगाह के रूप में जाना जाता था। आज उसी आजमगढ़ में मां सरस्वती का मंदिर स्वरूप विश्विद्यालय बन रहा है। यह परिवर्तन की शुरुआत है, हमने दस विश्विद्यालय बनाने का वादा किया था, जो आज पूरा हो गया है।

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि योगी आदित्यनाथ जी की सरकार ने उत्तर प्रदेश को माफिया राज से मुक्ति दिलाने का काम किया है। आपका आजमगढ़ इसका उदाहरण है। इससे पहले प्रदेश में लोग शामली के कैराना से लोग पलायन कर रहे थे। बेटियों की उच्च शिक्षा नहीं हो पाती है। आज मैं गर्व से कह सकता हूं कि माफिया उत्तर प्रदेश छोड़कर चले गए हैं। अब यहां कानून का राज है। उन्होंने कहा कि पहले आजमगढ़ में जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण का राज चलता था, सबको न्याय नहीं मिलता था। आज योगी आदित्यनाथ जी ने जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण पर पूर्ण विराम लगाने का काम किया है। जिस आजमगढ़ को दुनिया भर में पहले समाजवादी पार्टी के शासन में कट्टरवादी सोच और आतंकवाद के पनाहगार के रूप में जाना जाता था, उसी भूमि पर आज मां सरस्वती का धाम बनाने का काम हो रहा है। पांच वर्ष में उत्तर प्रदेश के अंदर एक बहुत बड़ा परिवर्तन आया है। 2017 से पहले तो उत्तर प्रदेश देश की छठी अर्थव्यवस्था थी, आज देश की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। इससे पहले प्रदेश का जीडीपी 10,90,000 करोड़ था और आज 21,31,000 करोड़ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here